Uttarakhand Floods update 6: Mountaineers available

I have got a call from a few mountaineers who are willing to help in rescue efforts. At the moment I cannot find/connect them to the right people. If anyone has any idea on how their willingness to help can be channelized then let us know

Advertisements

2 thoughts on “Uttarakhand Floods update 6: Mountaineers available

  1. This message is from Jala L Kumar on the U Turn Facebook page (http://www.facebook.com/groups/223886996414/?fref=ts). Dear frens ,our team has reached Rudraparyag.They met with Disaster Management Officer Ms Meera Kaintura and EXPERT Rescue Volunteers are required between Sonprayag-Gaurikund.Kindly kindly share…..and please help. ctc Mr Hemant Kumar 9760272029 and Rajesh Rawat 9837789422

    Not sure if these guys have any rescue experience but it may be worth chatting to the people on the numbers above.

  2. रुद्रप्रयाग के केदारनाथ में जो १७ जून २०१३ को जो विनाश लीला हुई है उसका दुख इतना है कि मैं उसे शब्दों में बयान नहीं कर सकता हूँ, मैं भी रुद्रप्रयाग ज़िले का निवासी हूँ, मेरे अपने लोगो पर भी इस आपदा का असर हुआ है, पर इस सब के लिए किसी को दोष नहीं दे सकते है, पर सभी एक जुट हो कर मदद ज़रूर कर सकते है. इसलिए मुझे उन सभी पीड़ितों के लिए बहुत ज़्यादा दुख है, मैं तो सिर्फ़ दुख ही जाहिर कर सकता हूँ क्यूँ कि मैं उन सभी पीड़ितों के दुखों के प्रति बहुत ज़्यादा दुखीं हूँ. मैं भारत सरकार से अपील करना चाहता हूँ कि उन सभी पीड़ितों के प्रति अधिक से अधिक लाभ और उनके दुखों को हर तरह से दूर करने का सफल प्रयास करें, मैने देखा कि उत्तराखंड और देश के सभी अन्य नेता उन पीड़ितों के प्रति सिर्फ़ अपना वोट बैंक मजबूत करने का ही प्रयास कर रहे है. सभी लोग उन आपदा पीड़ितों का दर्द समझे और अपने तरफ़ से उन लोगों के दुखों को दूर करने के लिए अपनी और से पूरी मदद करें. उत्तराखंड में प्राकृति आपदा आने से जो भी जान और माल का नुकसान हुआ है उन सभी की भरपाई क्या भारत की सरकार कर सकती. कुछ प्रशासनिक अफ़सर और कर्मचारी तो आपदा पीड़ितों से भी रिश्वत खोरी कर रहे है. और तो और कुछ लोग तो इतने बड़े मतलबी है कि वो किसी भी सामान को उसकी कीमत से कई गुना ज़्यादा कीमत में बेच रहे है, वैसे भी सभी पीड़ित अपनी ज़िंदगी से लड़ रहे है और अपनों के खोने का दुख झेल रहे है और इस पर यह सब रिश्वत खोरी और सामान की ज़्यादा कीमत से और भी परेशान है, मुझे बहुत ज़्यादा दुख है कि हमारे उत्तराखंड में भी ऐसे लोग है, इससे तो हम सभी (उत्तराखंड वासी) का नाम अन्य जगहों पर खराब होगा, वैसे तो उत्तराखण्ड के सभी लोग आपदा पीड़ितों का भरपूर सहयोग कर रहे है, पर कुछ लोगों की वजह से यह सब ग़लत काम हो रहे है, जिससे कि आपदा पीड़ितों को और भी ज़्यादा दुखों का शिकार होना पड़ रहा है. मेरे बातों का यह कदापि मतलब नहीं है कि सभी नेता, कर्मचारी, व्यापारी और अन्य लोग ग़लत है. पर कुछ लोगो के कारण ही यह सब हो रहा है. इस आपदा में उत्तराखंड सरकार पूरी तरह से विफल रही है, ऐसा क्यूँ हुआ? यह तो उत्तराखंड सरकार को ही भलिभाँति पता होगा, पर भला हो भारत के सेना का जो की उत्तराखंड आपदा के लिए माशीहा बन कर आए और सब की जान को बचाया. सेना की जितनी भी तारीफ करे वो सब कम ही होगी. और सभी देश वासी ने भी मदद की और तो और कई बाहरी देशों ने भी आपदा के लिए मदद की है. भारत सरकार और अन्य राजनीति पार्टी ने भी आपदा पीड़ितों के लिए भरपूर मदद की है. इन सब से यह प्रतीत होता है कि सभी धर्म के लोग एक साथ मिलकर इन आपदाओं से लड़ने के लिए एकजुट है.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s